हमारे पाठकों से : राज्य द्वारा आयोजित नस्ली हत्या के खि़लाफ़ अमरीका में लगातार प्रदर्शन

प्रिय संपादक,

जॉर्ज फ्लोयड की हत्या के खि़लाफ़ अमरीका और दुनियाभर में आगामी विरोध प्रदर्शन पर “अमरीका में अफ्रीकी अमरीकी नागरिक की क्रूर हत्या” शीर्षक का लेख लोगों के शोषण के खि़लाफ़ एकजुट होने के महत्व पर प्रकाश डालता है। अमरीका में नस्लवाद समाप्त होने से बहुत दूर है, बल्कि इसे 21वीं सदी में भी लोगों को बांटने के साधन के रूप में जीवित रखा गया है। पैदा होने से मृत्यु तक काले लोग अनगिनत अलग-अलग तरीकों से हर दिन भेदभाव और पीड़ा झेलते हैं और सिर्फ अपनी त्वचा के रंग के लिए राज्य द्वारा मनमाने ढंग से हत्या किए जाने के निरंतर डर में रहते हैं। अमरीका में पूंजीवाद और साम्राज्यवाद की मौजूदा आर्थिक प्रणाली इस प्रकार त्वचा के रंग के आधार पर लोगों में विभाजन बनाने के लिए नस्लवादी भेदभाव को जीवित रखती है। विरोध प्रदर्शनों का सबसे सराहनीय पहलू यह रहा है कि लोगों ने बंटवारे को मजबूती से खारिज कर दिया है और वे लाखों की संख्या में जातिवाद और पुलिस बर्बरता के खि़लाफ़ पूरी एकता के साथ खड़े हैं। अमरीका में “पुलिस की धन-राशि में भारी कटौती करो!” आंदोलन का नया आह्वान भी बहुत प्रगतिशील है और पुलिस, सेना आदि जैसे राज्य के अंगों के वास्तविक उद्देश्य के बारे में लोगों में बढ़ती चेतना को दर्शाता है। इन अंगों का असली मक़सद कानून और व्यवस्था बनाए रखना नहीं है बल्कि लोगों को दबाना और उन पर दहशत बनाये रखना है और उनके किसी भी विरोध प्रदर्शन को ख़त्म करना है।

इसी प्रकार हिन्दोस्तान में, मुसलमानों के खि़लाफ़ उनके धर्म के आधार पर भेदभाव और नफ़रत को बढ़ावा दिया जाता है और उनपर नियमित रूप से “आतंकवादी”, “कट्टरपंथी”, “जिहादी” आदि के झूठे आरोप लगाए जाते हैं ताकि लोग बंटे रहें। हमारे बस्तीवादी विरासत का मतलब यह भी है कि हिन्दोस्तानियों को व्यवस्थित रूप से काले लोगों और उत्तर-पूर्व क्षेत्र, एशियाई देशों आदि के लोगों के खि़लाफ़ नस्लभेदी होना सिखाया जाता है। उन्हें श्वेत लोगों से गुलामों जैसे व्यवहार करने के लिए सिखाया जाता है और उन्हें खुद श्वेत त्वचा पाने के लिये प्रेरित किया जाता है। नस्लवाद और भेदभाव के ये सभी रूप पूंजीवादी राज्यों के “फूट डालो और राज करो” के हथियारों का हिस्सा है और सदियों से इनका इस्तेमाल किया जाता रहा है। जब एक भेदभावपूर्ण उपकरण विफल हो जाता है, तो राज्य दूसरे का उपयोग करता है और वे नियमित रूप से उनमें से कई का उपयोग करते हैं। हमें राज्य द्वारा लोगों के इस उत्पीड़न और हत्या को समाप्त करने के लिए एकजुट होना चाहिए। हम एकजुटता के साथ अमरीका के लोगों के साथ खड़े हैं, जो मिलकर और लगातार काले लोगों के उत्पीड़न और हत्या के खि़लाफ़ डटकर लड़ाई को अंजाम दे रहे हैं!

अनीता, दिल्ली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *